May 26, 2024

Blood Glucose Test 

FBS Test & PPBS Test

ब्लड ग्लूकोज टेस्ट क्या है?

Blood ग्लूकोज परीक्षण आपके blood में ग्लूकोज के स्तर को मापता है। ग्लूकोज एक प्रकार की sugar है। यह आपके शरीर का energy का मुख्य स्रोत है। इंसुलिन नामक एक हार्मोन आपके रक्तप्रवाह से ग्लूकोज को आपकी कोशिकाओं में ले जाने में मदद करता है।

Blood में बहुत अधिक या बहुत कम ग्लूकोज एक गंभीर चिकित्सा स्थिति का संकेत हो सकता है। High blood sugar (हाइपरग्लेसेमिया) मधुमेह का संकेत हो सकता है, एक विकार जो गंभीर, दीर्घकालिक स्वास्थ्य स्थितियों का कारण बन सकता है।

Low blood sugar का स्तर (हाइपोग्लाइसीमिया) टाइप 1 मधुमेह वाले लोगों और टाइप 2 मधुमेह वाले लोगों में आम है जो मधुमेह की कुछ दवाएं लेते हैं। लीवर की बीमारी जैसी कुछ स्थितियां बिना मधुमेह वाले लोगों में low blood sugar का कारण हो सकती हैं, लेकिन यह असामान्य है। उपचार के बिना, गंभीर निम्न रक्त शर्करा दौरे और मस्तिष्क क्षति सहित बड़ी स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकता है।

High blood sugar अन्य स्थितियों के कारण भी हो सकता है जो आपके रक्त में इंसुलिन या ग्लूकोज के स्तर को प्रभावित कर सकते हैं

What is it used for? Why sugar test?

इसका उपयोग किसके लिए होता है?

रक्त शर्करा परीक्षण का उपयोग यह पता लगाने के लिए किया जाता है कि आपका रक्त शर्करा का स्तर स्वस्थ सीमा में है या नहीं। इसका उपयोग अक्सर मधुमेह के निदान और निगरानी में मदद के लिए किया जाता है।

Sugar test दो तरिकों से किया जा सकता है!

  1. FBS Test ( Fasting Blood Sugar Test) & PPBS Test ( Post Prandial Blood Sugar Test)
  2. RBS Test ( Random Blood Sugar Test)

Fasting Blood Sugar Test (FBS Test)

Test से पहले कम से कम 8 घंटे का उपवास होना जरूरी है, ईसी लिये ये test सुबह करना अच्छा होता है. आपका Doctor या healthcare workers आपको कितने घंटे Fasting जरूरी है ये बता देंगे, रात के खाने के बाद से उतने घंटे के बाद आपको test करना होता है, इस बीच आप कुछ खा नहीं सकते

FBS Test se pahle kuch kha sakte hai?

FBS test main Pani pi sakte hai?

नाही आप को Fasting मैं रेहना है, आप पानी पी सकते है, चाय – juice नहीं पी सकते.

Post Prandial Blood Sugar Test (PPBS Test)

भोजन के बाद blood test रक्त में ग्लूकोज के स्तर को मापने के लिए किया जाता है और इसका उपयोग प्रीडायबिटीज और टाइप 1 और 2 मधुमेह के लिए स्क्रीनिंग टेस्ट के रूप में किया जाता है। खाना खाने के बाद से 2 घंटे की अवधि के बाद परीक्षण की प्रक्रिया की जाती है ताकि यह जांचा जा सके कि खाने के बाद चीनी और स्टार्च के प्रति शरीर की प्रतिक्रिया कैसी है।

Random Blood Sugar Test ( RBS Test)

Test करने के लिये आपको Fasting की जरुरत नहीं होती है. ये टेस्ट आप Direct जा के lab से करवा सकते है! 

Kise karni chahiye sugar Test?

किसे करनी चाहिए sugar Test?

यदि आपको मधुमेह के संकेत या लक्षण हैं, जैसे अचानक वजन कम होना, अत्यधिक प्यास लगना, भूख लगना या बार-बार पेशाब आना, तो इस टेस्ट की सलाह दी जाती है। इसका उपयोग मधुमेह रोगियों में गुर्दे की स्वास्थ्य स्थिति का आकलन करने और उपचार प्रक्रिया की प्रभावशीलता की निगरानी के लिए ग्लूकोज के स्तर की निगरानी के लिए भी किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *